भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद
केन्द्रीय समुद्री मात्स्यिकी अनुसंधान संस्थान

Home परामर्श

परामर्श

सी एम एफ आर आइ परामर्श प्रदान करते हैं ..

सी एम एफ आर आइ सार्वजनिक / निजी संगठनों को परामर्श सेवाएं प्रदान कर रहे हैं. परामर्श प्रदान किए जाने वाले प्रमुख विषय नीचे दिए जाते हैं. परामर्श प्राप्‍त करने के मापदंड सरल हैं और हम इस दिशा में भा कृ अनु प के नियमों एवं मार्गदर्शनों का पालन करते हैं.

 

विषय

संक्षिप्‍त विवरण

1

पर्यावरण संघात निर्धारण पर अध्‍ययन     

अजैव और जैव प्राचलों का मॉनीटरिंग; पर्यावरणीय प्रबंधन योजना तैयार करना; प्रभावित स्‍थानों का बुनियादी सर्वेक्षण, लगातार/ अल्‍पकालीन मॉनीटरिंग करना

2

कृत्रिम चट्टान                         

स्‍थान चयन, अवगाह जगाने हेतु सामुदायिक स्‍तर पर आपसी बातचीत, ढांचा, कृत्रिम चट्टानों के सजावट एवं स्‍थापना, मात्स्यिकी और आवास तंत्र पर कृत्रिम चट्टानों का प्रभाव

3

जलजीवशाला सजाना

छन्‍ना और अन्‍य आवश्‍यक सामग्रियों से जलजीवशाला की सजावट

 

4

समुद्री संवर्धन  

पख मछली/ महाचिंगट पालन, अलंकारी मछली पालन के लिए  स्‍थान चयन, पिंजरे का रूपायन, निर्माण और लंगर

5

पख मछली हैचरी

हैचरी का रूपायन और इसके विभिन्‍न घटकों सहित तकनीकी परिचालन

6

मोत्‍ती उत्‍पादन

ब्‍लैक लिप मुक्ता शुक्ति पालन, संतति उत्‍पादन और मेबे मोती उत्‍पादन

7

जैवविविधता मूल्‍यांकन

बुनियादी सर्वेक्षण, विभिन्‍न टैक्‍सा की पहचान और जैवभार का आकलन

8

सामाजिक-आर्थिक मूल्‍यांकन

प्राकृतिक आपदाओं पर सामाजिक एवं आर्थिक संघात / तटीय समुदायों पर प्रौद्योगिकीय हस्‍तक्षेप, आवास संत्र की सेवाओं का मूल्‍यांकन

9

नमूनों की पहचान

मछलियॉं, क्रस्‍टेशियन, मोलस्‍क, प्रवाल, स्‍पंज, समुद्री माक्रोफाइट, शूलचर्मी

10

प्रशिक्षण प्रदान करना

मात्स्यिकी जीवविज्ञान, वर्गिकी विज्ञान, स्‍कूबा डाइविंग, संपदा निर्धारण और समुद्री संवर्धन पर अल्‍प / दीर्घ कालीन / राष्‍ट्रीय / अंतर्राष्‍ट्रीय प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन

11

जैवप्रौद्योगिकी

खाद्य सूत्रीकरण, रोग निदान आदि

12

जलांदर स्‍कूबा डाइविंग

आवास तंत्र / अन्‍य ई आइ ए का सर्वेक्षण / निर्धारण

13

पुस्‍तकालय

पुस्‍तकालय का आधुनिकीकरण

 

परामर्श प्रक्रिया सेल के सदस्‍य

नाम

स्‍थान

ई मेल

डॉ. वी. कृपा Dr.V Kripa

अध्‍यक्ष

vasantkripa@gmail.com

डॉ. के.एस. मोहम्‍मद

सदस्‍य

ksmohamed@gmail.com

डॉ.आर.जयभास्‍करन

सदस्‍य

jbcmfri@gmail.com

श्री सी. मुरलीधरन

सदस्‍य

muraldharancherat@gmail.com

श्री ए.वी.जोसफ

सदस्‍य

avjoseph2009@yahoo.com

श्री पी. एस. अनिलकुमार

सदस्‍य सचिव

anilcmfri@gmail.com

 

हस्‍ताक्षर की गयी परामर्श परियोजनाओं की संख्‍या :

वर्ष 1997 में सी पी सी के रूपायन से लेकर     - 107
अब तक पूरा की गयी परामर्श परियोजनाएं        - 100
कुल 107 परियोजनाओं से प्राप्‍त परामर्श शुल्‍क   - 11.14 करोड़ रुपए

 Ongoing Consultancy Projects

ग्राहक का नाम

शीर्षक

स्‍वभाव

प्रारंभ करने की तारीख

परियोजना निदेशक     महिला विकास के लिए  आइ एफ ए डी असिस्‍टड पी टी एस एल पी टी एन निगम, 100 अण्‍णा शालै रोड, गिन्‍डी, चेन्‍नई

तमिल नाडु के दो जिलाओं के तटीय समुद्र में कृत्रिम चट्टानों पर परामर्श

कृत्रिम चट्टान समर्थित जलजीव पालन

जून 2011

 

परियोजना निदेशक     महिला विकास के लिए  आइ एफ ए डी असिस्‍टड पी टी एस एल पी टी एन निगम, 100 अण्‍णा शालै रोड, गिन्‍डी, चेन्‍नई

तमिल नाडु के चार जिलाओं के तटीय समुद्र में कृत्रिम चट्टानों पर परामर्श

कृत्रिम चट्टान समर्थित जलजीव पालन

दिसंबर 2011

मात्स्यिकी आयुक्‍त, मात्स्यिकी विभाग,    तमिल नाडु सरकार  

तमिल नाडु के कांचीपुरम जिला के दो गॉंवों में कृत्रिम चट्टानों की स्‍थापना

कृत्रिम चट्टान समर्थित जलजीव पालन

दिसंबर 2011

मात्स्यिकी निदेशक, मात्स्यिकी विभाग,    तमिल नाडु  

तमिल नाडु तट के सत्रह गॉवों के तटीय समुद्र में कृत्रिम चट्टानों की स्‍थापना 

कृत्रिम चट्टान समर्थित जलजीव पालन

अप्रैल 2012

कोटेश्‍वर राव,     मात्स्यिकी संयुक्‍त निदेशक, विशाखपट्टणम, आंध्रा पदेश

विशाखपट्टणम, आंध्रा पदेश के चुने गए स्‍थानों में कृत्रिम चट्टानों की स्‍थापना 

कृत्रिम चट्टान समर्थित जलजीव पालन

सितंबर 2013

श्री एडगार एन्‍ड्रुकैटिस,    निदेशक,            जैवविविधता कार्यक्रम,
A-2/18,सफ्दरजंग एन्‍क्‍लेव, नई दिल्‍ली – 110 029

अष्‍टमुडी झील, केरल (भारत का दक्षिण पश्चिम तट) में जैवविविधता परिरक्षण और टिकाऊ उपयोग के औज़ार के रूप में इको-लेबलिंग का निर्धारण

जैवविविधता

दिसंबर   2013

एम डी, वी वी आइ डी सी लिमिटड, तिरुवनंतपुरम, केरल

काप्पिल, वर्कला में सागर जीवन आराम पार्क पर पूर्व साध्‍यता अध्‍ययन

ई आइ ए

जून 2014

 

घटना कैलन्डनर

Back to Top